मुक्तक

” मुक्तक ”

आँखों से आंशुओं को यूँ जाया नहीं करते।
हर बात पर बच्चो को रुलाया नहीं करते।।
खुशिंया नहीं दे सकते ना सही मगर कभी
जो दिल से चाहे उसको सताया नहीं करते।।
उपाध्याय…


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

मुक्तक

मुक्तक

मुक्तक

मुक्तक

1 Comment

  1. Anika Chaudhari - July 28, 2016, 1:06 pm

    बहुत सुन्दर जी

Leave a Reply