अच्छा लगता है….

गलतफहमियों में जीना
अच्छा लगता है…..
मुझको तेरा हर एक बहाना
अच्छा लगता है…..
कभी तू रोये कभी
तेरी बातें मुझे रुलायें
मुझको तेरा इठलाना
अच्छा लगता है…..
कभी नजर उठाकर
तू बोले मुझसे तौबा !
मुझको तेरा नजर झुकाना
अच्छा लगता है…..
लड़ती है तू पर
प्यार भी मुझको करती है
मुझको देखकर तेरा छुप जाना
अच्छा लगता है…..


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

बेटी हुई पराई

मंगलसूत्र; सुहाग का प्रतीक

दहेज प्रथा एक अभिशाप

शहादत को नमन

3 Comments

  1. vivek singhal - November 19, 2020, 10:52 am

    बहुत लाजवाब

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - November 21, 2020, 8:36 am

    अतिसुंदर भाव

Leave a Reply