अलबेला मन

कहाँ चला अलबेला मन तू,
बेस जिया में,पिया हमारे

इन प्रिय को,जग में न खोजो,
बसी नयन सुरतिया प्यारी

कहाँ चला अलबेला मन तू

-विनीता श्रीवास्तव(नीरजा नीर)-

Related Articles

Responses

New Report

Close