एहसास

मेरी एहसास तू है।
मेरी हर सांस तू है।
यहीं है, तू यहीं कहीं है,
मेरे आस-पास तू है।

मेरी जज़्बात तू है।
मेरी कायनात तू है।
कटे न एक पल तुझ बिन,
मेरी दिन-रात तू है।
तुझसे शुरू, तुझपे ख़त्म,
मेरी तलाश तू है।
मेरी एहसास तू है।।

मेरा क़रार तू है।
मेरा प्यार तू है।
बंद आँखें, कर सकता हूँ,
मेरा एतबार तू है।
ख़ुद से ज्यादा यकीं तुझपे,
मेरा विश्वास तू है।
मेरी एहसास तू है।।

मेरा ज़हान तू है।
दिलो-जान तू है।
हर जनम तुझे ही पाऊँ,
मेरा अरमान तू है।
न चाहा कुछ और, तेरे सिवा,
मेरी आस तू है।
मेरी एहसास तू है।।

मेरी हमराज तू है।
मेरी दिलसाज तू है।
मुझ बेज़बाँ की तू आवाज़,
मेरी अल्फ़ाज़ तू है।
नहीं कोई आरज़ू ज़िन्दगी से,
मेरे पास तू है।
मेरी एहसास तू है।।

मेरी बंदगी तू है।
दिल की लगी तू है।
मय बुझा नहीं सकती,
मेरी तिश्नगी तू है।
दरिया ने भी प्यासा ही रखा,
मेरी प्यास तू है।
मेरी एहसास तू है।।

देवेश साखरे ‘देव’


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

12 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 25, 2019, 3:43 pm

    काबिल- ए-तारीफ
    मनोहर

  2. Amod Kumar Ray - December 25, 2019, 3:59 pm

    मनह़र

  3. राही अंजाना - December 25, 2019, 5:30 pm

    बढ़िया

  4. Pragya Shukla - December 25, 2019, 9:20 pm

    Good

  5. Abhishek kumar - December 25, 2019, 9:40 pm

    Good

  6. Pragya Shukla - December 26, 2019, 2:15 pm

    वोट दीजिए

Leave a Reply