ऑनलाइन कक्षाएं

ऑनलइन कक्षाओं का आया दौर,
विद्यार्थी घर में हो रहे हैं बोर
एक बोली मुझसे, मैडम आपकी बहुत याद आए,
हम सखियां भी अब मिल नहीं पाएं
दूजी बोली, मन नहीं लगे सुबह और शाम,
मम्मी कराती हैं ,घर के भी काम
मैनें सबको बोला है, जल्दी ही टीका आएगा
पहले सा मौसम लाएगा..
बच्चाें थोड़ा सब्र करो, वो दिन जल्दी है आएगा
वो दिन जल्दी ही आएगा….

*****✍️गीता*****


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

22 Comments

  1. Isha Pandey - September 29, 2020, 5:31 pm

    क्या बात है, वर्तमान में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं पर इतनी बेहतरीन कविता। बहुत ही सुंदर।

  2. Geeta kumari - September 29, 2020, 5:35 pm

    रोज़ का ही अनुभव साझा किया है ईशा जी ।समीक्षा के लिए बहुत सारा धन्यवाद

  3. Piyush Joshi - September 29, 2020, 5:36 pm

    आप सावन मंच का चमकता सितारा हैं गीता जी। अपनी कविताओं से हमें अभिभूत करते रहा करिये। वाह

  4. Geeta kumari - September 29, 2020, 5:39 pm

    इतने सम्मान के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद पीयूष जी 🙏
    जी बिल्कुल कविताएं ज़रूर मिलेंगी आपको पढ़ने के लिए ।

  5. MS Lohaghat - September 29, 2020, 5:50 pm

    आपकी हर कविता शानदार है। वाह

    • Geeta kumari - September 29, 2020, 6:19 pm

      सादर आभार एवं बहुत बहुत धन्यवाद सर 🙏

  6. Satish Pandey - September 29, 2020, 6:04 pm

    कोरोना वैश्विक महामारी के चलते यह ऑनलाइन कक्षाओं के दौर आया है। जिसका आपने बहुत ही सटीक चित्रण किया है आपने। वर्णनात्मक शैली की इस विशिष्टता को सैल्यूट है। आपकी कवि दृष्टि जीवन का हर छोर छूती है। वाह

  7. Geeta kumari - September 29, 2020, 6:25 pm

    सुन्दर समीक्षा हेतु आपका बहुत बहुत धन्यवाद सर 🙏
    ये सब बातें जिनका कविता में जिक्र किया है ,ये तो विद्यार्थियों के साथ रोज ही हो जाती हैं। कविता को पसंद करने के लिए आभार सर ।

  8. Ramesh Joshi - September 29, 2020, 6:28 pm

    बहुत ही अच्छा लिखा है आपने गीता जी। समसामयिक होने के साथ सरस् भी है।

    • Geeta kumari - September 29, 2020, 7:29 pm

      इस टिप्पणी के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद रमेश जी🙏
      बहुत बहुत आभार

  9. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - September 29, 2020, 7:57 pm

    वाह वाह क्या बात है!!!!!!!!!! अतिसुंदर चित्रण

    • Geeta kumari - September 29, 2020, 8:17 pm

      समीक्षा के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया भाई जी , सादर आभार 🙏

  10. Suman Kumari - September 29, 2020, 8:00 pm

    सुन्दर अभिव्यक्ति

  11. Chandra Pandey - September 29, 2020, 9:55 pm

    Very nice lines

  12. Devi Kamla - September 29, 2020, 9:58 pm

    Wow बहुत खूब

  13. मोहन सिंह मानुष - September 29, 2020, 10:32 pm

    सुंदर अभिव्यक्ति

  14. प्रतिमा चौधरी - September 30, 2020, 10:35 am

    कोरोना महामारी के चलते सब कार्य रुक से गए हैं, इसका असर विद्यालय पर भी पड़ा है और बच्चों पर भी
    वर्तमान स्थिति से अवगत कराती बहुत सुंदर पंक्तियां

  15. Geeta kumari - September 30, 2020, 11:44 am

    आपकी इस समीक्षा हेतु आपका बहुत बहुत धन्यवाद प्रतिमा जी।

Leave a Reply