ओ भाई मेरे !

भाई दूज का दिन है
बहनों प्यार लुटाओ
प्यारे-प्यारे भाई को
अपने हाथों से मिष्ठान खिलाओ…
भाई-बहन के प्रेम का
परिचय देता है यह त्योहार
भाई से जो कुछ मांगे बहन
तो भाई जाये सबकुछ हार….
बहन खिलाती भुरकी-चूरा
और खिलाए मिठाई
भाई मन ही मन यह सोंचे
आज जेब पर बन आई….
देकर भाई प्यार का तोहफा
प्यार जताये अपना
बहन कहे ओ भाई! मेरे
सदा साथ ही रहना…


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

9 Comments

  1. Suman Kumari - November 16, 2020, 6:43 am

    बहुत ही सुन्दर रचना है आपकी

  2. Geeta kumari - November 16, 2020, 9:05 am

    भाई दूज पर बहुत सुंदर कविता

  3. Rishi Kumar - November 16, 2020, 2:40 pm

    Very good

  4. Satish Pandey - November 16, 2020, 9:57 pm

    बहुत सुन्दर, बहुत लाजवाब अभिव्यक्ति

  5. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - November 18, 2020, 8:06 am

    अतिसुंदर

Leave a Reply