किया है प्यार

किया है प्यार तो इकरार से इन्कार क्या करना।
है मरना शौक़ बचने का जतन बेकार क्या करना।
तेरा आगोश ही मझधार बनकर गर डुबाता हो,
तो आशिक़ दिल ये कहता है कि दरिया पार क्या करना।

संजय नारायण


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

3 Comments

  1. Pragya Shukla - October 31, 2020, 10:16 am

    Beautiful

  2. Rishi Kumar - October 31, 2020, 11:51 am

    सुंदर

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - October 31, 2020, 5:41 pm

    अतिसुंदर

Leave a Reply