तुमको रक्त चढ़ाया है

मातृभूमी पर दिल करता है
हो जाऊं कुर्बान
बना रहे ये प्यारा झंडा
भारतवर्ष की शान

देश के कितने ही भक्तों ने
तुमको रक्त चढ़ाया है
तब जाकर ये प्यारा झंडा
लालकिला लहराया है
आज है फिर वो दिन आया
हो इसका गुणगान
बना रहे ये प्यारा झंडा
भारतवर्ष की शान

इस झंडे की ओर जो देखे
दुश्मन गन्दी दृष्टी से
कसम है भारत माता की वो
रह न पाये सृष्टी पे
तीन रंग के इस झंडे में
कितनो का बलिदान
बना रहे ये प्यारा झंडा
भारतवर्ष की शान

गद्दारों से देश मुख्त हो
ये सौगंध उठाते हैं
सेना की वर्दी में तेरे
बेटे दौड़े आते है
सबसे पहले तेरे रक्षा
तू मेरा अभिमान
बना रहे ये प्यारा झंडा
भारतवर्ष की शान@KAAP


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

सरहद के मौसमों में जो बेरंगा हो जाता है

आजादी

मैं अमन पसंद हूँ

So jaunga khi m aik din…

1 Comment

  1. Udit jindal - August 6, 2016, 11:00 pm

    kya khoob likha hai apane

Leave a Reply