पुरानी दास्तां

एक दिल कहता है, फिर एक मर्तबा किसी से इश्क़ कर।
दूसरा दिल कहता है, ए नादान पुरानी दास्तां से तो डर।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. Satish Pandey - October 28, 2020, 7:10 pm

    बहुत खूब, बहुत ही लाजवाब

  2. Pragya Shukla - October 29, 2020, 12:01 am

    सही कहा आपने.
    कहते हैं दूध का जला छाछ भी फूंककर पीता है…फिर जिसने चोट खाई हो दिल पर वह इतनी जल्दी संभल नहीं पाता…

  3. Geeta kumari - October 29, 2020, 7:11 am

    बहुत ख़ूब

  4. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - October 29, 2020, 9:41 pm

    सुंदर

Leave a Reply