प्यारे बच्चों

प्यारे बच्चों, प्यारे बच्चों आओ मेरे पास,
दूर वहाँ क्यों बैठो हो तुम हो क्यों इतने उदास?
आओ मिलकर पाठ पढ़ें कुछ सीखें नयी बात,
मिल जुलकर हम साथ रहें और मन में हो विश्वास।
प्यारे बच्चों …..
सुबह उठो जल्दी से तुम और बोलो सबको शुभ प्रभात,
बस्ता लेकर स्कूल चलो तुम सब ले हाथों में हाथ।
प्यारे बच्चों…..
नित्य कर ईश्वर की प्रार्थना, कर्त्तव्य मार्ग पर डटे रहो,
कोई भी कठिनाई आये पर तुम पीछे न कभी हटो।
प्यारे बच्चों……
पढ़ लिखकर रोज ही सीखो अच्छी-अच्छी बात,
जीवन में खूब आगे बढ़ो तुम सच्चाई के साथ।
प्यारे बच्चों, प्यारे बच्चों आओ मेरे पास,
दूर वहाँ क्यों बैठो हो तुम हो क्यों इतने उदास?


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

5 Comments

  1. PRAGYA SHUKLA - July 14, 2020, 1:41 pm

    Nice line

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - July 14, 2020, 10:59 pm

    Nice

  3. प्रतिमा चौधरी - September 26, 2020, 1:41 pm

    बहुत सुंदर पंक्तियां

Leave a Reply