प्रातः की सुंदर बेला में

प्रातः की सुंदर बेला में
सबसे पहले ईश्वर को
धन्यवाद करना है जिसने
नया सवेरा दिखलाया ।
फिर माता व पिता के चरणों
को छूकर प्रणाम करें,
जिन्होंने जीवन देकर के
यह संसार हमें दिखलाया ।
फिर गुरुजन को नमन करें
जिन्होंने ने अज्ञान तिमिर को
दूर किया है, आंखें खोली
उन्नति का पथ दिखलाया।
प्रातः की सुंदर बेला में
सबसे पहले ईश्वर को
धन्यवाद करना है जिसने
नया सवेरा दिखलाया ।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - August 23, 2020, 7:45 am

    Sunder soch

  2. Anu Singla - August 23, 2020, 7:59 am

    सुन्दर

  3. मोहन सिंह मानुष - August 23, 2020, 9:39 am

    सुन्दर प्रस्तुति

    • Satish Pandey - August 23, 2020, 2:02 pm

      सुन्दर टिप्पणी हेतु आपका हार्दिक आभार

  4. Geeta kumari - August 23, 2020, 10:18 am

    सुंदर विचार

  5. Devi Kamla - September 16, 2020, 9:54 pm

    बहुत ही सुन्दर

  6. Satish Pandey - September 17, 2020, 11:28 am

    धन्यवाद जी

Leave a Reply