भारत कोकिला

हे भारत कोकिला!
मुबारक हो तुम्हें जन्मदिन तुम्हारा।
वतन के लिए कर खुद को समर्पित
जीवन तेरा स्वतंत्रता को अर्पित
हैदराबाद में जन्मी अघोरनाथ की सुता कहाई
माता दी कवयित्री निज रचना की लोङी सुनाई पालना में जिनकी गुन्जती हो बांग्ला कविता
पश्चिम तक गुंजायमान था स्वर तुम्हारा
हे भारत कोकिला!
मुबारक हो तुम्हें जन्मदिन तुम्हारा।
मानवाधिकार की संरक्षक, गोविराज की भार्या
किंग्स कौलेज लंदन में जिसने शिक्षा पाई थी
‘ गोल्डन थ्रैशोल्ड ‘ प्रथम कविता संग्रह
‘ब्रोकन विग’ से कवयित्री की प्रतिष्ठा पाईं थीं
“केसर ए हिन्द” से नवाजित, आसमान तक फैला स्वर‌ था तुम्हारा
हे भारत कोकिला! मुबारक तुम्हें जन्मदिन तुम्हारा।
कहां थकतीं देश प्रेम का अलख जगाने चलीं थी
बहुभाषी, मनमोहनी , वाणी से सोते हृदय झकझोङती थी
सर्वस्व न्यौछावर करने को तत्पर, कर्त्तव्य पर सब चल पङे थे
जेल जाने या भूखे रहने की वाली सब संग उनके खङे थे
संकटों से जूझती, धीर वीरांगना की भांति
हिन्द के कण-कण में बसा है समर्पण तुम्हारा
हे भारत कोकिला! मुबारक हो जन्मदिन तुम्हारा।
कांग्रेस अधिवेशन की अध्यक्ष बनकर कानपुर में गरिमा बढ़ाई
कभी भारत की प्रतिनिधि बन, दक्षिण अफ्रीका तक जाके आई
राज्यपाल पद पर होके सुशोभित राष्ट्रनिर्माण का व्रत लिया था
पहली महिला इस पद पर विराजित,देश को प्रगति पथ पर अग्रसर किया था
गांधी की शिष्या एनी की सखि तुम, सबसे ऊंचा
नाम तुम्हारा
हे भारत कोकिला! मुबारक हो जन्मदिन तुम्हारा।
,,,,, Happy National Women’s Day


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

भोजपुरी चइता गीत- हरी हरी बलिया

तभी सार्थक है लिखना

घिस-घिस रेत बनते हो

अनुभव सिखायेगा

3 Comments

  1. Geeta kumari - February 14, 2021, 8:46 am

    भारत कोकिला सरोजिनी नायडू के जन्मदिवस पर बहुत सुंदर रचना

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - February 15, 2021, 8:45 am

    बहुत खूब

Leave a Reply