भोजपुरी देवी पचरा गीत (कहरवा धुन) – रीझेली भवानी |

भोजपुरी देवी पचरा गीत (कहरवा धुन) – रीझेली भवानी |
लाल लाल अड़हुल फुलवा टहकत डार |
ओहि फुलवा रीझेली भवानी |
अड़हुलवा सजल काली दरबार |
ओहि फुलवा रीझेली भवानी |
हथवा कटार माई चमचम चमकेला|
गरवा बीच हार माई महमह महकेला |
सिरवा ओढ़ेली भवानी ललका ओहार |
ओहि फुलवा रीझेली भवानी |
फुलवा लवंगीया माई के आहार हो |
झुमत झामत आवा घरवा हमार हो |
गिरले चरनिया भगता करा उपकार |
ओहि फुलवा रीझेली भवानी |
गिरि चरनिया रोई गावे भारती पचरवा हो |
किरीपा करा काली माई ओढ़ावा अचरवा हो |
जागा जागा देवी करा उजियार |
ओहि फुलवा रीझेली भवानी |
अड़हुलवा सजल काली दरबार |
श्याम कुँवर भारती (राजभर)
कवि /लेखक /गीतकार /समाजसेवी
बोकारो झारखंड मोब -995550928


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

6 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 18, 2020, 9:08 am

    जय हो मैया

  2. Pragya Shukla - December 18, 2020, 5:30 pm

    जय हो

  3. Pragya Shukla - December 18, 2020, 5:33 pm

    भोजपुरी भाषा को प्रोत्साहित वा आगे यूं ही बढ़ाते रहिये

Leave a Reply