भोजपुरी होली 9 – कारी केसिया के झार |

भोजपुरी होली 9 – कारी केसिया के झार |
बहे लागल फागुनी बयार |
मह मह महके अमवा मोजरवा |
छन छन छनके महुआ के कोचवा |
अईले नाही सईया तोहार |
गोरिया कारी केसिया के झार |
पियर सरसो फुला गईली |
हरियर मटर गदराई गईली |
झीनी झीनी बहे पुरवा बयार |
गोरिया कारी केसिया के झार |
बैरी पवनवा दरदिया बढ़ावे बदनवा |
महुआ के कोचवा चुएला मदनवा |
सजनी चले अचरा के उड़ाय |
गोरिया कारी केसिया के झार |
फुलवा फुला गईले भवरा लोभाई गईले |
चढ़ते फगुनवा सजनवा कोहाई गईले |
सजनी करेली सोरहो सिंगार |
गोरिया कारी केसिया के झार |
बहे लागल फागुनी बयार |

श्याम कुँवर भारती [राजभर] कवि ,लेखक ,गीतकार ,समाजसेवी ,

मोब /वाहत्सप्प्स -9955509286


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

रंग से परहेज़ कैसा

होली का रंग बस लाल है

हुड़दंग करेगे होली में

हिन्दी होली गीत – मत तरसाओ ना |

13 Comments

  1. Priya Choudhary - February 24, 2020, 7:35 am

    Nice ✍

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - February 24, 2020, 1:03 pm

    नीम्मन गीत बा

  3. Pragya Shukla - February 24, 2020, 1:34 pm

    Nice

  4. NIMISHA SINGHAL - February 24, 2020, 5:56 pm

    👏👏

  5. Pragya Shukla - February 24, 2020, 9:25 pm

    Good

  6. Dhruv kumar - February 26, 2020, 9:22 pm

    Nyc

  7. Kanchan Dwivedi - March 5, 2020, 6:01 am

    Nice

Leave a Reply