मुलाकात

आया हूँ तेरे शहर मे पल भर की ही सही पर मुलाकात हो जाये।

बैठकर आमने-सामने कुछ बीते हुये लम्हों के सवालात हो जाये।

Related Articles

Responses

New Report

Close