मेरी बेटी

अब मेरी बेटी थोड़ी सी बड़ी 8 महीनेहो गई है कुछ जिद्दी, कुछ नकचढ़ी हो गई है
अब मेरी बेटी थोड़ी सी बड़ी 8 महीने हो गई है
अब अपनी हर बात मनवाने लगी है
हर दिन नई – नई फरमाइशें होती है
लगता है कि फरमाइशों की झड़ी हो गई है
मेरी बेटी थोड़ी सी बड़ी 8 महीनेहो गई है

अगर डांटती हूँ तो हंसती है जब वो हंसती है तो मन को मोह लेती है
घर के कोने कोने मे उसकी महक होती है
मेरी बेटी थोड़ी सी बड़ी 8 महीनेहो गई है

“राज” सपने सारे अब उसी के संवारता है
दुनियाँ में उसको अलग पहचान दिलानी है
मेरी बेटी थोड़ी सी बड़ी 8 महीनेहो गई है


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

8 Comments

  1. Satish Pandey - November 11, 2020, 4:31 pm

    बहुत खूब, सुन्दर रचना

  2. Geeta kumari - November 11, 2020, 4:32 pm

    बेटी पर बहुत ही सुन्दर रचना

  3. Pragya Shukla - November 11, 2020, 6:37 pm

    बहुत सुंदर

  4. Praduman Amit - November 11, 2020, 7:38 pm

    आपकी कविता 💇 के प्रति प्रेरणा दायक है।

  5. Anu Mehta - November 12, 2020, 8:44 am

    thanku ji

  6. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - November 12, 2020, 10:19 pm

    सुंदर रचना

Leave a Reply