मेरे भारत की युवा शक्ति

मेरे भारत की युवा शक्ति
तू जाग नया, उत्साह जगा ले,
मन में मत रख हीन भावना
प्रगति पथ पर कदम बढ़ा ले।
अपनी पुरातन संस्कृति का
नवयुग से तालमेल करा ले,
सच्ची में तू कदम उठा ले
भारत का उत्थान करा दे।
मेहनत का वक्त है, मेहनत कर ले,
शंखनाद कर संकल्पित हो,
दूर फेंक कर तुच्छ निराशा
मन की मंजिल फतह करा ले।
मेरे भारत की युवा शक्ति
तू जाग नया, उत्साह जगा ले,
मन में मत रख हीन भावना
प्रगति पथ पर कदम बढ़ा ले।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

14 Comments

  1. मोहन सिंह मानुष - August 9, 2020, 11:35 pm

    बेहतरीन प्रस्तुति

  2. Suman Kumari - August 10, 2020, 6:52 am

    बहुत ही अच्छी

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - August 10, 2020, 7:47 am

    Nice

  4. Anuj Kaushik - August 10, 2020, 9:16 am

    सुन्दर रचना

  5. MS Lohaghat - August 10, 2020, 12:01 pm

    अतिसुन्दर रचना

  6. Shraddha Forest - August 11, 2020, 3:33 pm

    जबरदस्त..

  7. Kumar Piyush - August 12, 2020, 10:43 pm

    बहुत खूब

Leave a Reply