ये जो उदासी है तेरे अन्दर….

ये जो उदासी है तेरे अंदर,
वो खुशी में बदल जाएगी।
तू उठ तो सही,संघर्ष के लिए ,
वक्त तो इंतजार में है तेरे,
किस्मत भी बदल जाएगी।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. Geeta kumari - September 19, 2020, 12:22 pm

    बिल्कुल सही प्रतिमा जी, संघर्ष करने से रूठी तक़दीर बदल जाती है ।
    बहुत सुन्दर प्रस्तुति..

  2. मोहन सिंह मानुष - September 19, 2020, 3:32 pm

    हत्
    हताश इंसान के लिए बहुत ही लाजवाब प्रेरणादायक पंक्तियां

  3. Satish Pandey - September 19, 2020, 3:33 pm

    सुन्दर अभिव्यक्ति

  4. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - September 19, 2020, 8:27 pm

    अतिसुंदर भाव

  5. Pushpendra Kumar - September 30, 2020, 10:32 pm

    बहुत उम्दा

Leave a Reply