ये दुनिया राम की है

जय श्री राम ।।
—————————
घट-घट में राम बसे
तन-तन में राम बसे
कोई ढूँढे तो उसे सर्वत्र राम ही राम दिखे
————————————–
असत् की सत्ता कितना भी जोर लगा ले
मन माया जितना भी संयोग कर ले
पर राम की शक्ति के आगे सब क्षीण है
ये दुनिया राम की है -(2बार)
—————————–
हम नादान बालक है
हम पाप करते हैं
प्रभु जग के स्वामी हैं
सबको तारना प्रभु राम का काम है ।।
—————————————
ये दुनिया राम की है – (2बार)
———————————-
हम सब यहाँ कुछ दिनों के मेहमान है,
आने-जाने का खेल यहाँ सदा से होता आया है
राम ही आते, राम ही जाते
राम ही राम को पाते
—————————-
ये दुनिया राम की है – (2बार)
राम भक्त विकास कुमार


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

3 Comments

  1. Geeta kumari - January 29, 2021, 10:27 am

    बहुत सुंदर, जय श्री राम 🙏

  2. Suman Kumari - January 30, 2021, 12:31 am

    सुन्दर

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - January 30, 2021, 9:04 pm

    वाह

Leave a Reply