*रंगीली होली*

रंगीली होली का आया त्योहार,
आओ सब मिलकर मनाएं।
सतरंगी रंगों से सराबोर,
अबीर-गुलाल लगाएं।।
फाल्गुन पूर्णिमा बसंती रंग बरसे,
प्रीत के रंग में हिय मन हरसे,
भर पिचकारी रंगों की बौछार,
होली सब मिलजुल कर मनाएं।
नीला गुलाबी लाल नारंगी,
अनंत खुशियां रंग बिरंगी,
छल क्लेश बुराई का हो नाश,
मन में छिपा मैल मिटाएं।
प्रेम सद्भावना आपसी भाईचारा,
होली है पावन त्यौहार हमारा,
असत्य पर सत्य की जीत,
विजय पताका फहराएं,
रंगीली होली का आया त्यौहार,
आओ सब मिलकर मनाएं।।

स्वरचित मौलिक रचना
✍️… अमिता गुप्ता

Related Articles

दुर्योधन कब मिट पाया:भाग-34

जो तुम चिर प्रतीक्षित  सहचर  मैं ये ज्ञात कराता हूँ, हर्ष  तुम्हे  होगा  निश्चय  ही प्रियकर  बात बताता हूँ। तुमसे  पहले तेरे शत्रु का शीश विच्छेदन कर धड़ से, कटे मुंड अर्पित करता…

Responses

  1. बहुत सुंदर प्रस्तुति
    होली महोत्सव की अनंत शुभकामनाएं 🙏🙏

  2. असत्य पर सत्य की जीत,
    विजय पताका फहराएं,
    रंगीली होली का आया त्यौहार,
    आओ सब मिलकर मनाएं।।

  3. बहुत ही सुंदर लिखा है दी ,बहुत अच्छे से रूपांतरित किया आपने होली के त्योहार को।🤌🤌✨✨

New Report

Close