रमता जोगी

रमता साधु का जात ना पुछो,
पुछ लो ज्ञान की बात ।
तलवार के वजन को ना आंकिए,
जोरदार घाव से करें बात ।।

✍महेश गुप्ता जौनपुरी

Related Articles

लॉक डाउन २.०

लॉक डाउन २.० चौदह अप्रैल दो हज़ार बीस, माननीय प्रधान मंत्री जी की स्पीच । देश के नाम संबोधन, पहुंचा हर जन तक । कई…

Responses

New Report

Close