शायरी

साहित्य के वो योद्धा
तलवार नहीं उठाते ।
लड़ते जरूर हैं पर
लड़ाकू नहीं कहाते।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

3 Comments

  1. Rishi Kumar - January 10, 2021, 2:22 pm

    बहुत उम्दा

  2. Geeta kumari - January 10, 2021, 2:49 pm

    बहुत खूब,उत्तम अभिव्यक्ति

  3. Satish Pandey - January 10, 2021, 8:56 pm

    कवि शास्त्री जी आपकी यह शायरी अति उत्तम भाव संजोये हुए है। बहुत खूब

Leave a Reply