शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं

आप महान हैं, हमें देते जो ज्ञान हैं |
आप का सम्मान करना, मेरी ही शान है |
मैं फूल हूँ चमन का, आप बागवान हैं |
आप ही से महकता ये सारा संसार है |
आप की इज्जत करना, मेरा काम है |
आप की आज्ञा मानना मेरा धर्म है |
आप को सम्मान देना, यही ये मेरा कर्म है |
आप का ही दिया हुआ जीवन का दान है |
जो खत्म ही न होता वह देता ज्ञान है |
आप की इज्जत करना मेरी शान है |
आप ही तो दुनिया को सन्मार्ग दिखाता है |
प्रभु ने भी किया सदा आप को ‘प्रणाम है |
आप की इज्जत करना मेरी शान है |
गिरते है जब हम, तो उठाते है आप
जीवन की राह दिखाते आप |
अंधेरे ग्रहों पर बनकर दीपक
जीवन को रौशन करते है आप |
कभी नन्हीं आँखों में नमी जो होती,
तो अच्छे दोस्त बनकर हमें हँसाते है आप |
ऐसे गुरु को मेरा सदा कोटि कोटि प्रणाम

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

10 Comments

  1. Khas Paisa - August 30, 2019, 4:43 pm

    nice one

  2. Riya Sharma - August 30, 2019, 4:47 pm

    🙂 🙂 nice

  3. Riya Sharma - August 30, 2019, 4:50 pm

    Wow, i am really stunned. Dude, amazing poem:D Thank you for sharing:D

  4. देवेश साखरे 'देव' - August 31, 2019, 4:56 pm

    सुंदर रचना

Leave a Reply