शिक्षक दिवस

आज 5 सितंबर है और हम सभी को पता है की आज शिक्षक दिवस है। हम सब हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस का जश्न मनाते है। आज डॉ सर्वेपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन है। डॉ सर्वेपल्ली राधाकृष्णन राष्ट्रपति बनने से पहले एक महान प्रतिशिष्ठ शिक्षक थे। इसलिए उनका जन्मदिन पूरे देश में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

शिक्षक छात्रों को अपने बच्चे के रूप में प्यार करते है। शिक्षक छात्रों में भेदभाव नहीं करते और सभी छात्रों पर ध्यान देते है। हमारे माँ-बाप हमें देश का एक अच्छा नागरिक बनाने के लिए स्कूल में भेजते है। हालाँकि हमारे शिक्षक हमारे पूरे भविष्य को उज्ज्वल और सफल बनाने की जिम्मेदारी लेते है।

शिक्षक हमारे जीवन में ज्ञान प्रदान करने के साथ एक जीवन को दिशा भी देते है। शिक्षक ज्ञान का स्रोत है। मैं प्रत्येक छात्र से अनुरोध करता हूं कि सभी छात्र शिक्षकों की सलाह का पालन करें और देश का एक अच्छा नागरिक बनें ।

अध्यापक हमारे जीवन में वह व्यक्ति होता है, जो हमें अच्छी शिक्षा के साथ बहुत सी अन्य महत्वपूर्ण चीजों को सिखाता है। एक अध्यापक अपने विद्यार्थियों के लिए बहुत अधिक मायने रखता है ।
अध्यापक एक ऐसी मोमबत्ती है जो स्वयं जलकर दूसरों को प्रकाशित करता है, हर अध्यापक ये सोचता है मेरे पास पढ़ा हुआ बच्चा मेरे से ऊँची Post पे जाये और मेरा नाम रोशन करें |
मेरे अध्यापक का मेरे जीवन में बहुत बड़ा योगदान है | मैं आज जो भी हैं सब मेरे अध्यापक के दिए हुए ज्ञान और दिखाए हुए सही मार्ग पर चल कर यह मुकाम तक पहुंचे हैं | इसीलिए मेरे अध्यापक का जिंदगी भर शुक्रगुजार हूँ |
सभी अध्यापकों का व्यवहार मेरे प्रति अच्छा होते हुए भी मुझे Physical Education & Hindi के अध्यापक सबसे अच्छे और प्रिय लगते हैं। इसका एक कारण तो यह हो सकता है कि उनका बाहरी व्यक्तित्व जितना सुन्दर और आकर्षक है, उनकी बोलचाल, व्यवहार और अध्यापन का ढंग भी उतना ही सुन्दर है । वह जो भी पढ़ाते हैं, उसका एक चित्र-सा खड़ा कर विषय को साकार कर देते हैं। उनका पढ़ाया और समझाया गया पाठ छात्र कभी नहीं भूलते। मेरे इन अध्यापक का चेहरा हमेशा एक निर्मल मुस्कान से खिला रहता है। मैंने उन्हें कभी भी कक्षा के बाहर या अंदर बेकार की बातें करते हुए सुना है, न देखा है।
Mr. Sushil Sir (शारीरिक शिक्षा) Physical Education के अध्यापक है & Mr. Ramesh Kumar (हिंदी) Hindi के अध्यापक है ऐसे आदर्श अध्यापक का आशीर्वाद पाकर किसे गर्व नहीं होगा । वे विद्यार्थियों के साथ किसी प्रकार का भेद- भाव नहीं करते । सबको समान दृष्टि से देखते हैं । निर्धन तथा मेधावी छात्रों को वे विद्यालय की ओर से उचित सहूलियतें दिलवाते हैं । वे विद्यार्थियों को स्वास्थ्यप्रद आदतें अपनाने के लिए प्रेरित करते हैं । कक्षा और विद्यालय कर सफाई पर भी उनकी दृष्टि रहती है । वे हमें सकारात्मक सोच रखने तथा वैज्ञानिक दृष्टिकोण अपनाने के लिए प्रेरित करते रहते हैं ।
वे हमें हमारे जीवन में शिक्षा के महत्व और ज़रुरत को समझाते हैं। वे हर एक विद्यार्थी के लिए प्रेरणादायक स्त्रोत होते हैं और उनके अनमोल विचार हम सभी को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं। आज मैं अपने सभी माननीय शिक्षक गुणों को उनके इस महान कार्य के लिए आभार व्यक्त करती हूँ और उनसे आशीर्वाद, उनके निर्देश और सलाह हमें सफलता की ओर अनंत ऊंचाई प्राप्त हो सके ।
मैं शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने अध्यापकों के सम्मान में कुछ शब्द कहना चाहती हूँ ।

Sir, मुझे पढ़ना-लिखना सिखाने के लिए धन्यवाद
मुझे सही-गलत की पहचान सिखाने के लिए धन्यवाद
मुझे बड़े सपने देखने और आकाश को चूमने का साहस देने के लिए धन्यवाद
मेरा गुरु और प्रकाश बनने के लिए धन्यवाद।
शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं ।

आप महान हैं, हमें देते जो ज्ञान हैं |
आप का सम्मान करना, मेरी ही शान है |
मैं फूल हूँ चमन का, आप बागवान हैं |
आप ही से महकता ये सारा संसार है |
आप की इज्जत करना, मेरा काम है |

आप की आज्ञा मानना मेरा धर्म है |
आप को सम्मान देना, यही ये मेरा कर्म है |
आप का ही दिया हुआ जीवन का दान है |
जो खत्म ही न होता वह देता ज्ञान है |
आप की इज्जत करना मेरी शान है |
आप ही तो दुनिया को सन्मार्ग दिखाता है |
प्रभु ने भी किया सदा आप को ‘प्रणाम है |
आप की इज्जत करना मेरी शान है |
गिरते है जब हम, तो उठाते है आप
जीवन की राह दिखाते आप |
अंधेरे ग्रहों पर बनकर दीपक
जीवन को रौशन करते है आप |
कभी नन्हीं आँखों में नमी जो होती,
तो अच्छे दोस्त बनकर हमें हँसाते है आप |
ऐसे गुरु को मेरा सदा कोटि कोटि प्रणाम

Related Articles

दुर्योधन कब मिट पाया:भाग-34

जो तुम चिर प्रतीक्षित  सहचर  मैं ये ज्ञात कराता हूँ, हर्ष  तुम्हे  होगा  निश्चय  ही प्रियकर  बात बताता हूँ। तुमसे  पहले तेरे शत्रु का शीश विच्छेदन कर धड़ से, कटे मुंड अर्पित करता…

प्यार अंधा होता है (Love Is Blind) सत्य पर आधारित Full Story

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ। निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा॥ Anu Mehta’s Dairy About me परिचय (Introduction) नमस्‍कार दोस्‍तो, मेरा नाम अनु मेहता है। मैं…

अपहरण

” अपहरण “हाथों में तख्ती, गाड़ी पर लाउडस्पीकर, हट्टे -कट्टे, मोटे -पतले, नर- नारी, नौजवानों- बूढ़े लोगों  की भीड़, कुछ पैदल और कुछ दो पहिया वाहन…

Responses

New Report

Close