शुभ हो, मुबारक हो नया साल आपको

ऐलान नया हो कोई, उद्घोष नया हो
जज्बे भी नये हों और जोश नया हो
हों राग नये से सभी , तान हो नई
हौसले बुलंद हों, उड़ान हो नई

मिल जाए नयेपन की एक मिसाल आपको
शुभ हो, मुबारक हो नया साल आपको

धरती से मिले धैर्य और अंबर से ऊंचाई
पश्चिम से पूर्व तक दे खुशियां ही दिखाई
उपहार हर जगह से सदा खास ही मिले
उत्तर से भी दक्षिण से भी उल्लास ही मिले

चारों दिशा से कर जाए निहाल आपको
शुभ हो, मुबारक हो नया साल आपको

व्यवहारकुशल हों सदा, गुण के धनी रहें
चेहरे की मुस्कान ये सदा बनी रहे
हर रोज और बड़ा हो ये नाम आपका
दुनिया के दिल पे राज करे काम आपका

किसी चीज का भी न रहे मलाल आपको
शुभ हो, मुबारक हो नया साल आपको

विक्रम कुमार
मनोरा, वैशाली


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Related Posts

भोजपुरी चइता गीत- हरी हरी बलिया

तभी सार्थक है लिखना

घिस-घिस रेत बनते हो

अनुभव सिखायेगा

5 Comments

  1. Rishi Kumar - December 31, 2020, 7:06 am

    🙏💐💐👌✍✍✍✍

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - December 31, 2020, 9:35 am

    वाह

  3. Geeta kumari - December 31, 2020, 1:10 pm

    बहुत सुंदर कविता

  4. Pragya Shukla - December 31, 2020, 9:45 pm

    Very nice

  5. Satish Pandey - January 4, 2021, 4:16 pm

    बहुत खूब सुन्दर अभिव्यक्ति

Leave a Reply