सावन :एक परिवार

सावन की बहार है
कविताओं की बौछार है।
कवियों और कवयत्रियों का
पावन ये परिवार है।।

Related Articles

कविनिकेतन

यह कविता एक ऐसे आवास के विषय में है जो सिर्फ कवि या लेखकों के मन में निर्मित है। कवियों के उस आवास को मैंने…

ना समझ संतान

कहानी-ना समझ संतान पैतृक संपत्ति से कुशल किसान रहता था, अनेक पशुओं तथा कृषि यंत्रों के साथ एक सुनहरे भवन का मालिक था, किसान के…

Responses

  1. बिल्कुल शास्त्री जी सावन मंच सच में एक परिवार है जहां पर बहुत अच्छी-अच्छी विभिन्न विषयों में कविताएं प्रकाशित होती हैं, बहुत सुंदर पंक्तियां

  2. बहुत सुन्दर शब्दों में सावन मंच की विशेषता पर प्रकाश डाला है। यथार्थपरक और स्नेहिल रचना है। वाह

New Report

Close