हर्जाना

धड़कन को दिल में रहने का हर्जाना चाहिए,
महबूब को संग रखने का जुर्माना चाहिए।।
राही अंजाना

Related Articles

lafz

तेरे हर-एक लफ्ज़ के मुताबिक़ हमको इक रोज बिछड़ना हैं,, तेरा हाल तो तू ही जाने, हमे तो उठ-उठकर रोज मरना हैं,, मगर तेरी अनचाही…

करम

मेरे महबूब का करम मुझ पर जिसने मुझे, मुझसे मिलवाया है नहीं तो, भटकता रहता उम्र भर यूं ही मुझे उनके सिवा कुछ भी न…

Responses

New Report

Close