मुक्तक

आज भी तेरी हर बात का असर है!
आज भी तेरी मुलाकात का असर है!
नींद भी आती नहीं यादों की चोट से,
आज भी तेरी हर रात का असर है!

#महादेव_की_कविताऐं’

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Lives in Varanasi, India

4 Comments

  1. Panna - January 8, 2017, 11:33 pm

    aapki kavita ka bhi asar kam nahi

  2. Ria - January 10, 2017, 1:51 am

    kya khoob kaha hai

Leave a Reply