याद

कोई बात है उनमें शायद जो याद आते है
या फिर हमें बस याद करने की आदत हो गयी है

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

H!

6 Comments

  1. Priya Gupta - March 3, 2018, 10:56 am

    nice

  2. Priya Gupta - March 3, 2018, 11:01 am

    Its just a habit

  3. anupriya sharma - March 3, 2018, 2:29 pm

    यादों का काम ही याद आना है
    क्यों वक्त बरबाद करते हो उस पर
    जिसे जाना है

  4. राही अंजाना - July 31, 2018, 11:23 pm

    Waah

Leave a Reply