Activity

  • ARJUN GUPTA (AARZOO) posted an update 1 week, 4 days ago

    पतझड़ के ज़र्द फूल भी दूजी बहार है
    इस ज़िंदगी को जीने का ज़रिया तलाश कर

    आदाब

    सागर को भाप कर तू यां सहरा तलाश कर
    इस तिश्नगी के वास्ते कतरा तलाश कर

    पतझड़ के ज़र्द फूल भी दूजी बहार है
    इस ज़िंदगी को जीने का ज़रिया तलाश कर

    दुनिया की भीड़ में रहोगे गुमशुदा सदा
    पहचान के लिए कोई रस्ता तलाश कर

    गौहर किसी तलाब में मिलते नहीं बशर
    सागर कहीं पे कोई तू गहरा तलाश कर

    मसले का हल भी सोच लेंगे बाद में, अभी
    बारिश है कोई ठौर ठिकाना तलाश कर

    माना कि जिंदगी तेरी ग़म-खार से भरी
    गुलज़ार कर सको इसे मौक़ा तलाश कर

    मिलते हैं आज भी यहाँ इंसान ‘आरज़ू’
    दौर-ए-जहाँ को ठीक से सारा तलाश कर

    आरज़ू