Hindi kavita

मिट्टी मे फिसलकर गिरोगे दलदल तक नहीं जाओगे डूबना ही नहीं जानता उसे ही तैरना चाहिए। रेत आंखों जाये आसूं निकलेगा हर परिस्थिति मे पानी…

New Report

Close