Jha Bhardwaj, Author at Saavan's Posts

दहेज़ एक अभिशाप है।

जब लेते हैं दहेज़,और लेते हैं कलेजा किसी का जो उसका अभिमान है। त्यागते है वो सबकुछ जो उनका सम्मान है, तो क्यों लेते है दहेज़,दहेज़ ही क्या एक शान है क्योकि दहेज़ एक अभिशाप है। इसी दहेज़ के खातिर,एक बाप अपने अरमानो को रौंदता है। जबतक होती है बेटी बड़ी,तबतक बेटी के लिए सबकुछ संजोगता है, जो उसका अभिमान है ,जो उसका स्वाभिमान है तो क्यों लेते हैं दहेज़,क्या दहेज़ उसका मान है। क्योंकि दहेज़ एक अभिशाप है। बेटी का... »