View Profile

About the Poet

Name

कवि देवेन्द्र प्रताप सिंह "आग"

Nickname

devshakya

About

सुलगती इस कलम की बस यही पहचान बोलेगी
जो भटके हैं उन्हें पहुँचा दो कब्रिस्तान बोलेगी
कभी जो आजमाना हो तो आ जाना मैदान-ए -जंग
मेरे शोणित की बूँदें जय हो हिंदुस्तान बोलेगी

Birthday

1995-12-12

Contact No.

9675426080

New Report

Close