अरमां मचल रहे हैं

तेरी तारीफ में क्या कहूँ
लफ्ज कम पड़ रहे हैं
तू खूबसूरत है इतना
अरमां मचल रहे हैं

Related Articles

Responses

New Report

Close