आजादी

‘आजादी’ आखिर क्या है आजादी

होना क्या होता है आज़ाद होना

ईमान से आज़ाद हो गए,

थाम दामन बेइमान हो गए हम

प्यार से आज़ाद हो गए,

अदावत पर फ़िदा हो गए हम

शहीदी को जहन से भुला,

भष्ट गद्दार खोखले हो गए हम

उसूल आन से आज़ाद हो,

गुरूर मे चूर हो गए है हम

जिसे पाने की कोशिश मे,खुद को खो दिया हमने

अब खो दिया सब आज़ाद हो गए है हम


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

2 Comments

  1. Abhishek kumar - November 26, 2019, 2:48 am

    सुन्दर रचना

Leave a Reply