जागरूक मतदाता

सोंच समझकर वोट दें तो बन जायेगी तकदीर,
चलो निकाले सोच समझ कर ऐसी कोई तदबीर,

विश्व पटल पर छप जाये अपने देश की तस्वीर,
जागरूक करे जो हर जन को हो ऐसी कोई तरकीब,

लोकतन्त्र समझे नहीं और बहाते जो झूठे नीर,
जनता के मतदान से ही जो बन जाते बलवीर,

हर मतदाता का मान करे जो सरकार चलाये वीर,
चलो लगादे हिम्मत कर अब कोई ऐसी तरतीब।।

राही अंजाना

Related Articles

दुर्योधन कब मिट पाया:भाग-34

जो तुम चिर प्रतीक्षित  सहचर  मैं ये ज्ञात कराता हूँ, हर्ष  तुम्हे  होगा  निश्चय  ही प्रियकर  बात बताता हूँ। तुमसे  पहले तेरे शत्रु का शीश विच्छेदन कर धड़ से, कटे मुंड अर्पित करता…

कोरोनवायरस -२०१९” -२

कोरोनवायरस -२०१९” -२ —————————- कोरोनावायरस एक संक्रामक बीमारी है| इसके इलाज की खोज में अभी संपूर्ण देश के वैज्ञानिक खोज में लगे हैं | बीमारी…

ख्वाहिश

समझदार हो गर, तो फिर खुद ही समझो। बताने से समझे तो क्या फायदा है॥ जो हो ख़ैरियतमंद सच्चे हमारे, तो हालत हमारी ख़ुद ही…

Responses

New Report

Close