थोड़ी दूरियां भी अच्छी

सुपर डेंस फेज में जब
कण होते हैं
तब बिस्फोट के कई कारण होते हैं
बिग बैंग भी तभी होता है
और अणु, परमाणु ,न्यूट्रॉन ,इलेक्ट्रान
और प्रोटोन सभी छितरा जाते हैं

अणुओं का स्वतंत्र अस्तित्व है
क्यों कि उनके बीच अधिक लगाव है
और थोडाअलगाव है
आकर्षण और
थोड़ा प्रतिकर्षण है
उनमे आपस में संतलुन है

जैसे दो कण आकर्षण के कारण
अधिकतम निकट आते हैं
तभी उनके बीच प्रतिकर्षण होने लगता है
अन्यथा
वें घर्षण के कारण
एक दूसरे को जला दें
एक दूसरे का अस्तित्व मिटा दें

यही प्राकृतिक नियम लागू होता है
मानवीय रिश्तों पर
अधिक घनिष्ठता
अधिक नज़दीकियां
और
फिर बढ़ने लगती हैं दूरियां

शायद इसलिए
रिश्तों में
संबंधों में
थोड़ी दूरियां भी अच्छी

चूँकि
आकर्षण बल
दूरी के इंवेर्सेली पर्पोशनल होता है
यदि दूरी शून्य हुई
तो खतरा बढ़ जाता है
और बिग बैंग बिस्फोट होता है
और छिटक कर दूर चली जाती हैं
भावनाएं
संवेदनाएं

समय बीतता रहता है
भावनाएं अलग अलग दिशाओं में यात्रा करती रहती हैं
दूरियां बढ़ती रहती
गैलक्सी ,स्टार,ग्रह और उपग्रह तो कम बनते हैं
डार्क एनर्जी का निर्माण ज़्यादा होता है
अनंत काल तक एक्सपेंशन होता है
मिलन नहीं ।

तेज

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Lives in New Delhi, India

Leave a Reply