Tej Pratap Narayan, Author at Saavan's Posts

मैं यह शिद्दत से महसूस करता हूँ

मैं यह शिद्दत से महसूस करता हूँ लिख – लिख कर मैं कागज नहीं अन्तर की रिक्तता को भरता हूँ रिक्त स्थान कुछ ऐसे हैं… मन के अन्दर बैठे हैं वें प्रश्न पूंछ्ते रहते हैं मैं उत्तर देता रहता हूँ दुनिया हिस्सों में बंटी हुई कितने किश्तों में कटी हुई एक दूसरे से कितनी सटी हुई मन चाहे सबको एक करुँ बेफिक्रो की भी थोड़ी फिक्र करुँ दुनिया की ही केवल फिक्र नहीं मैं अपनी फिक्रो में भी रहता हूँ ज़िंदगी ... »

मेरे मोहल्ले में स्कूल खुलने दो

  मेरे मोहल्ले में न मंदिर बनाओ … न मस्ज़िद बनाओ यदि बनाना ही है तो एक स्कूल बनाओ मेरे मोहल्ले में न गीता का पाठ हो न जुमे की नमाज़ हो अगर पाठ कोई हो तो वह इंसानियत का पाठ हो मेरे मोहल्ले में न पंडित को भेजो और न पूजा को भेजो न क़ाज़ी को भेजो और न नमाज़ी को भेजो अगर भेजना ही है तो शिक्षा को भेजो और शिक्षक को भेजो मेरे मोहल्ले में न हिन्दू बनाओ और न मुसलमान बनाओ इंसान को इंसानियत से घेरो और इ... »

रोशनियाँ उसका पीछा करती रहीं

रोशनियाँ उसका पीछा करती रहीं और वह अंधेरों में छिपता रहा तन्हाइयों में खोता गया और सूरज से आँख मिलाने से डरता रहा दिन दिन न थे उसके अब रातों का उसको इंतज़ार रहने लगा इतना पर्दा बढ़ा कि ख़ुद से भी वह छुपने लगा अँधेरे अच्छे लगने लगे धीरे धीरे दूर जाते रहे उसके जीवन से सवेरे वह अपने जीवन से दूर जाता रहा सब कुछ खोता रहा तभी किसी प्रेरणा से उसने कलम उठा ली लिखने को अपने जीवन में जगह दी अवसाद मन के वह कागज़... »

मोहब्बत की गवाही

मोहब्बत की गवाही देने लगती हैं धड़कने सुलझाने से सुलझ जाती है सब उलझने चाँद को पाने की हिम्मत आने लगती है ज़िंदगी में आती हैं जितनी अड़चने ! Like Comment »

शांति ओढ़ लेना

शांति ओढ़ लेना प्रतिरोध छोड़ देना ज़रूरी नहीं कायरता ही हो हो सकता है आने वाले संघर्ष की तैयारी हो बात बात में ताने देना देखने पर आँखे मटकाना बोलते वक़्त मुह बिचकाना ज़रूरी नहीं कि यह नफरत का प्रदर्शन हो हो सकता है कि यह मानसिक बीमारी हो चीखों का तड़पते रहना जवानी का मचलते रहना शमा का जलने से पहले बुझ जाना ज़रूरी नहीं कि कमज़ोरी हो हो सकता है हवा का ज़ोर भारी हो ऑफिस में काम न कर पाना फाइलों का काम तमाम कर... »

जापान से बुलेट ट्रेन लाने की ज़रूरत नहीं है

जापान से बुलेट ट्रेन लाने की ज़रूरत नहीं है बुलेट ट्रेन हम भी बना सकते हैं और चला सकते हैं अगर जापान से कुछ लाना ही है … तो उनकी आदतें लाई जाएँ उनकी सांस्कृतिक सौगातें दिखाई जाएँ उनकी कार्यसंस्कृति अपनाई जाए वैज्ञानिक प्रवृत्रियों का आयात हो सिर्फ जुमलों में न बात हो सामंती आदतों पर प्रतिघात हो उस देश से कुछ सीखा जाए जिस देश ने युद्ध की विभीषिका को सहा जो देश परमाणु अस्त्रों की आग में जला फिर... »

टेक्नोलॉजी कैसे आएगी

टेक्नोलॉजी कैसे आएगी ——––—-/–/——-// टेकनोलॉजी कैसे आएगी इस देश में जब तर्क को आस्था के डिब्बे में बंद कर दिया गया हो … जब विज्ञान को धर्म के तले दबा दिया गया हो जब देश के सर्वोच्च पद पर बैठा व्यक्ति घंटों गंगा की आरती करता हो जब मिसाइल के प्रक्षेपण से लेकर घर बनवाने तक में हर छोटे बड़े कार्य में मन्त्र पढ़े जाते हों नारियल फोड़े जाते हों चमत्कार की आशा ... »

‎international‬ knowledge day

जो समाज में समता का समर्थक है जो देश का विकास चाहता है जो अंधकार की जगह प्रकाश चाहता है जो अंध विश्वास ,पाखंड ,भेदभाव हटाना चाहता है जो सामाजिक दीवारों को तोड़ना चाहता है … जो धर्म ,संप्रदाय और जाति से उठकर इंसान को इंसान से जोड़ना चाहता है वह अंबेडकर का समर्थक होगा वह किसी खांचे में बंटा नही होगा न वह धर्म होगा न वह वर्ग होगा न जाति होगा वह जोंक की तरह समाज से लिपटा हुआ उसको चूसेगा नहीं वह सम... »

यह जापान है

यह जापान है ——————- यह हिंदुस्तान नहीं ,बाबू … जापान है जहाँ गुरु ग्राम और घंटा घड़ियाल नहीं विज्ञान है यहाँ आप आज़ाद है अपने विकास के लिए उन्नति के प्रयास के लिए यहाँ नम्रता है फालतू का दिखावा नहीं जो है ,वह वास्तविक है कोई छलावा नही कोई छुआ छूत नहीं लोग परजीवी की तरह समाज को चूसते नहीं हर असफलता और नाकामी के लिए भगवान को कोसते नहीं मन्त्र उनका सरल है बुद्ध... »

वर्चुअल दुनिया

वो कनेक्ट होना चाहता है पूरी दुनिया से वर्चुअली लेकिंन अपनी रियल दुनिया के लिए … उसको फुरसत नही फेस बुक पर 5000 मित्र है और 10000 फॉलोवर ट्विटर में ट्रेंड करता है वह और इंस्टाग्राम में हिट है पर उसका दुनिया में कोई रियल मित्र नही वर्चुअल दुनिया के डिस्कशन का हीरो है किसानो की समस्या हो या नारी पर अत्याचार आर्थिक नीति हो या भ्रष्टाचार पर रियलिटी से कोई सम्बन्ध नहीं फेस बुक पर ही इश्क़ करता है ... »

Page 1 of 41234