बिन बुलाए आते हैं

बिन बुलाए आते हैं गमों के सागर,
मुसीबतों के तूफान,
और कभी चाहकर भी नहीं होती,
खुशियों की बारिश ,
मुस्कुराहटों की बौछार।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

15 Comments

  1. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - September 20, 2020, 1:28 pm

    सुंदर

  2. Suman Kumari - September 20, 2020, 4:47 pm

    बिलकुल सही

  3. Pragya Shukla - September 20, 2020, 7:44 pm

    Nice

  4. Anil Pandey - September 22, 2020, 11:51 am

    Umda rachana

  5. मोहन सिंह मानुष - September 22, 2020, 1:21 pm

    बेहतरीन

  6. Deep Patel - September 22, 2020, 2:58 pm

    Mast

  7. Pushpendra Kumar - September 30, 2020, 10:30 pm

    सही कहा आपने

Leave a Reply