महात्मा गाँधी

चले हम उस रह पर,जो रह बापू ने दिखाई,
छलके चरित्र मे सबके सदा जीवन और सचाई |
खुशियों से भर जाये हर एक आंगन,
देश को चाहिए गाँधीवादी शासन |

बिना खून बहाये, बिना चोट पहुंचाए
अंग्रेज उन्होंने मार भगाए
उच्च कर्म करके बढाया देश का मान
गाते रहते
“रघु पति राघव राजा राम
पतित पावन सीता राम ”
इस दशहरे जाला दो मन का रावन
देश को चाहिए गांधीवादी शासन

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

14 Comments

  1. देवेश साखरे 'देव' - September 28, 2019, 12:33 am

    Good

  2. राम नरेशपुरवाला - September 28, 2019, 3:27 am

    जय बापू

  3. nitu kandera - September 28, 2019, 3:29 am

    Nice

  4. Kandera - September 28, 2019, 7:22 am

    बढ़िया

  5. Kandera Fitness - September 28, 2019, 7:24 am

    Nice

  6. sandhya Singh - September 28, 2019, 4:31 pm

    Bahut sundar kavita likhi h aapne

  7. sandhya Singh - September 28, 2019, 4:31 pm

    👌👌👌👌👌

  8. Ishwari Ronjhwal - October 1, 2019, 5:15 pm

    Very nice

  9. sudesh ronjhwal - October 1, 2019, 10:33 pm

    Beautiful line’s

Leave a Reply