संवर कर

संवर कर आऊँगा जब तुम्हारी महफिल में ,
निगाहें तुम्हारी सिर्फ मुझ पर ठहर जायेगी।

देखेंगे जब सब तुम्हारे होंठो पर हल्की-सी हँसी,
महफ़िल में हमारी मोहब्बत ही चर्चा बन जायेगी।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. PRAGYA SHUKLA - July 14, 2020, 1:44 pm

    Jitani taarif ki jaaye utani kam hai

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - July 14, 2020, 11:01 pm

    Sunder

  3. प्रतिमा चौधरी - September 26, 2020, 1:43 pm

    बहुत ही खुब

Leave a Reply