shayari

ख्वाबो की ख्वाहिशो ने मार डाला, हमको तो
वारना जीना तो हमे भी आता था,
उनकी तरह झूठ का !

Previous Poem
Next Poem

लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

5 Comments

  1. सीमा राठी - April 2, 2018, 7:29 pm

    बहुत खूब

  2. Neetika sarsar - April 3, 2018, 10:51 am

    शुक्रिया

  3. राही अंजाना - July 31, 2018, 10:41 pm

    Waah

  4. महेश गुप्ता जौनपुरी - September 9, 2019, 7:35 pm

    वाह बहुत खूब

  5. राम नरेशपुरवाला - September 11, 2019, 10:18 am

    Good

Leave a Reply