ढूँढते हैं

बनके दुश्मन बहार का
नजारे बहार ढूँढते है।
दिल में रख वैमनस्य
जनाब प्यार ढूँढते हैं।।


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. Rajiv Mahali - June 5, 2020, 11:33 am

    Salute স্যার

  2. Pragya Shukla - June 5, 2020, 1:40 pm

    Waah

  3. Panna - June 6, 2020, 12:44 pm

    nice

Leave a Reply