तेरा सजदा – 55

तेरा सजदा – 55

         

कोई आँख बंद कर तुझमें रमता

कोई आँख तेरी में है जा बसता

                     

                                   ….. यूई

Related Articles

वन डे मातरम

स्वतंत्र हैं हम देश सबका। आते इसमें हम सारे हर जाती हर तबका।।   सोई हुई ये देशभक्ति सिर्फ दो ही दिन क्यूँ होती खड़ी। एक…

Responses

New Report

Close