दीवानगी रास्तों से कुछ यूँ बड़ी

दीवानगी रास्तों से कुछ यूँ बड़ी

मंजिलों की चाह ही कहीं छूट गई

                       

                                ….. यूई

Related Articles

Responses

New Report

Close