नहीं हो जब कोई अंजाम

नहीं हो जब कोई अंजाम,
अगर आगाज़ का
बस इक राह हो,
न कोई मंजिल हो
दिल में बस मोहब्बत हो,
दिल मिलने को मुन्तजिर हो


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

Panna.....Ek Khayal...Pathraya Sa!

4 Comments

  1. Ankit Bhadouria - February 15, 2016, 5:05 pm

    nice 1

  2. UE Vijay Sharma - February 16, 2016, 5:39 pm

    good one…..

  3. Abhishek kumar - November 25, 2019, 9:01 am

    Oh

Leave a Reply