पैसा

पैसे का इमान देता नहीं कभी साथ,
गरिबी अमीरी छोड़ कर मिलाओ हाथ।
अफसर बनकर भगवान तुम नहीं हुए,
सद्भाव गलत कर्मो को माफ करो हे नाथ।।

महेश गुप्ता जौनपुरी


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

4 Comments

  1. Pragya Shukla - May 20, 2020, 8:43 pm

    Good

  2. Abhishek kumar - May 20, 2020, 8:51 pm

    Nyc

  3. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - May 20, 2020, 9:00 pm

    Nice

  4. Dhruv kumar - May 22, 2020, 9:29 pm

    Nyc

Leave a Reply