बीती शामें

दिल कोई तहखाना है
जिसमें दफन हजारों यादें हैं
कुछ खट्टी हैं कुछ मीठी हैं
बीती शामो की बातें हैं


लगातार अपडेट रहने के लिए सावन से फ़ेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम, पिन्टरेस्ट पर जुड़े| 

यदि आपको सावन पर किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो हमें हमारे फ़ेसबुक पेज पर सूचित करें|

9 Comments

  1. NIMISHA SINGHAL - March 22, 2020, 3:50 pm

    👏

  2. Pt, vinay shastri 'vinaychand' - March 22, 2020, 6:49 pm

    Nice

  3. Antariksha Saha - March 22, 2020, 9:53 pm

    khoob

  4. Pragya Shukla - March 23, 2020, 10:27 am

    Nice

  5. Dhruv kumar - March 26, 2020, 10:43 am

    Nyc

Leave a Reply