बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ

 

माँ,मैं तेरे हर सपने को सच करके दिखाउंगी
तेरे हर मुसीबत मे तेरे, मैं भी काम आउंगी
रोशन कर दूंगी मैं तेरा नाम इस दुनिया मे
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

माँ,मैं तुझे कभी नहीं सताऊँगी
तेरे होंठों पर हमेशा मुस्कराहट खिलाऊंगी
कर दूंगी मैं भी कुछ ऐसा काम इस दुनिया मे
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

माँ,मैं तेरी ज़िन्दगी जीने की वजह बन जाऊंगी
तेरे बुढ़ापे मे, मैं तेरी लाठी कहलाउंगी
सब देखते रह जाएंगे तेरी इस बेटी को इस दुनिया मे
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

माँ,मैं तेरा घर के कामो मे भी हाथ बटाउंगी
तेरे हर सुख-दुःख मे तेरा साथ निभाऊंगी
मिसाल बन जाऊंगी मैं इस दुनिया मे
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

माँ, मैं हर कक्षा मे अव्वल आउंगी
तेरा और बाबा का सर शान से उठाउंगी
सब शाबासी देंगे तेरी बेटी को इस दुनिया मैं
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

माँ, मैं तेरे ही शरीर का एक हिस्सा हू
तेरी अंतरात्मा का ही एक किस्सा हू
न कर विदाई मेरी मुझे मार कर इस दुनिया मे
मुझे भी आने दे माँ, इस दुनिया मे

“देव कुमार”

Related Articles

दुर्योधन कब मिट पाया:भाग-34

जो तुम चिर प्रतीक्षित  सहचर  मैं ये ज्ञात कराता हूँ, हर्ष  तुम्हे  होगा  निश्चय  ही प्रियकर  बात बताता हूँ। तुमसे  पहले तेरे शत्रु का शीश विच्छेदन कर धड़ से, कटे मुंड अर्पित करता…

प्यार अंधा होता है (Love Is Blind) सत्य पर आधारित Full Story

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ। निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा॥ Anu Mehta’s Dairy About me परिचय (Introduction) नमस्‍कार दोस्‍तो, मेरा नाम अनु मेहता है। मैं…

Responses

New Report

Close