मनुजता

ऐ मनुज जिस दिवस , मनुजतत्व पाओगे
स्वयं को पा लोगे , जग को अपनत्व दे जाओगे

Related Articles

Responses

New Report

Close